गर्मी को लेकर आयी बड़ी खबर: यहां तक चढ़ सकता हे पारा !

तहलका न्यूज़,जयपुर। सूर्य के रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करने के साथ ही इस बार नौतपा 25 मई से शुरू होगा जो 2 जून तक रहेगा। ज्योतिषियों की गणना के मुताबिक पिछले साल की तुलना में इस साल नौपता पर प्रदेश में भीषण गर्मी पड़ने के आसार हैं। सूर्य और चंद्रमा के एक साथ वृष राशि में रहने के कारण 29 मई से एक जून तक गर्मी का असर सबसे तेज रह सकता है।पंचाग निर्माता एवं ज्योतिषाचार्य डॉ. रवि शर्मा ने बताया कि इस बार नौतपा के बीच वृष राशि में सूर्य के साथ चन्द्रमा रहेगा, जो 29 मई से एक जून तक रहेंगे। ऐसे में इन तीन दिनों में गर्मी के तेवर ज्यादा तेज रहने की संभावना है। चन्द्रमा इसके बाद 5 जून तक मिथुन व कर्क राशि में रहेगा। फिर 6 से 8 जून तक चन्द्रमा सिंह राशि में रहेगा। इन तीन दिनों में तेज हवाएं भी चलेंगी। वहीं मौसम विभाग मई महीने में तेज गर्मी पड़ने की चेतावनी जारी कर चुका है। मौसम विभाग के अधिकारियों के मुताबिक पारा 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की आशंका है। पिछले दिनों बांसवाड़ा में 2 बार तापमान 47 डिग्री सेल्सियस को पार कर चुका है, जो ये संकेत दे रहा है कि आगामी दिनों में तापमान और बढ़ सकता है।

बीकानेर सबसे ज्यादा बार तपा
अमूमन नौतपा पर गर्मी तेज पड़े ये जरूरी नहीं। जयपुर में पिछले 10 साल की रिपोर्ट देखें तो 5 बार ही ऐसा रहा जब मई में नौपता के दौरान पारा चरम पर पहुंचा। यही नहीं जयपुर के अलावा पिछले 10 साल में अजमेर में 5 बार, जैसलमेर, जोधपुर, उदयपुर, बाड़मेर में 6 बार, चूरू, कोटा, गंगानगर में 7 बार और बीकानेर में 9 बार ऐसा हुआ जब नौपता में मई के अंदर पारा सर्वाधिक रहा।

पिछले साल रहा चक्रवात का असर
पिछले साल नौपता 25 मई को शुरू हुआ था, उससे करीब एक सप्ताह पहले अरब सागर में एक चक्रवात आया था, जिसके कारण नौपता का असर कम हो गया था। ताउ ते चक्रवात के कारण राजस्थान के दक्षिण और पूर्वी हिस्से में दो दिन तक बारिश और आंधी का दौर चला था। इसके कारण तापमान में कमी आई थी। इसके अलावा नौपता के शुरू होने के 2 दिन बाद ही साइक्लोन सिस्टम बनने से आंधी-बारिश और ओले गिरने लगे थे, जिसके असर से 3 दिन तक तापमान में गिरावट रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.